Edition

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

बाराबंकी : विदेश भेजने के नाम पर 04 लाख रुपये लेकर थमा दिया फ़र्ज़ी वीज़ा, एसपी के निर्देश पर चार लोगों के खिलाफ दर्ज हुआ मुकदमा

 

रामनगर-बाराबंकी।
विदेश भेजने के नाम पर 04 लाख से ज्यादा रुपये लेकर कबूतरबाज़ों ने फर्जी वीज़ा थमा दिया। ठगी का एहसास होने पर जब पीड़ितो ने अपना पैसा वापस मांगा तो कबूतरबाज़ जान से मारने की धमकी देने लगे। पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार सिंह के निर्देश पर अब फर्जी वीज़ा बना कर धोखाधड़ी करने वाले गिरोह के 03 लोगो के खिलाफ रामनगर थाने में विभिन्न धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया है।रामनगर थाना क्षेत्र के ग्राम जानकीनगर मजरे इब्राहिमपुर निवासी मुस्ताक अली पुत्र सिद्दीक ने बताया कि रोजगार के सिलसिले में वह और उसके कुछ मित्र विदेश जाना चाह रहे थे। इसी सिलसिले में एक दिन मसौली चौराहे पर उसकी मुलाकात फतेहपुर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम धमसड निवासी मोहम्मद अकील पुत्र यूनुस से हुई। अकील ने बताया कि वह अपने सहयोगियों के साथ मिलकर विदेश भेजने का कार्य करता हैं। तुम सबको सस्ता व अच्छा वीजा बनवाकर विदेश में काम दिलाएंगे। अकील की बातों पर भरोसा कर मुस्ताक ने अपनो मित्रों सुफियान, शान मोहम्मद, राशिद व जुबेर के साथ पुनः मसौली चौराहे पर अकील व उनके सहयोगियों से मुलाकात की। अकील व उसके साथियों की बड़ी-बड़ी बातों में फंसकर सभी ने कई किस्तों में चार लाख से अधिक रुपए नगद व ऑनलाइन माध्यम से उन्हें दे दिए। मुस्ताक ने बताया कि विश्वास में लेने के लिए जलसाज़ो ने हम सभी की डॉक्टरी जांच भी कराई और व्हाट्सएप के माध्यम से वीजा भी भेज दिया। वीजा की जानकारी करने पर पता चला यह कूटरचित व फर्जी है।धोखाधड़ी का पता लगने पर जब पीड़ितों ने अपना पैसा वापस मांगा तो अकील व उसके साथी गालियां देते हुए जान से मारने की धमकी देने लगे और फर्जी मुकदमे में फसाने का भी भय दिखाने लगे। प्रार्थी ने इस संबंध में थाना मसौली पर एक शिकायती पत्र दिया लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। मजबूरन पीड़ितों ने पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार सिंह के पास पहुंचकर न्याय की गुहार लगाई। पुलिस अधीक्षक के आदेश पर मोहम्मद अकील पुत्र यूनुस निवासी ग्राम धमसड थाना फतेहपुर, सूरज कुमार उर्फ अमन मौर्य पुत्र मेवालाल निवासी वार्ड संख्या 5 बस स्टॉप ऊंचाहार मुस्तफाबाद थाना ऊंचाहार जिला रायबरेली तथा बाराबंकी निवासी प्रीति मौर्या व मंजूर के विरुद्ध रामनगर थाने में धोखाधड़ी सहित कई अन्य धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर उप निरीक्षक संतोष कुमार त्रिपाठी को जांच सौंपी गयी है।
रिपोर्ट – निरंकार त्रिवेदी
219
आपकी राय

क्या आप बाराबंकी के मौजूदा भाजपा सांसद उपेन्द्र सिंह रावत की कार्यशैली से संतुष्ट है?

और पढ़ें

बाराबंकी : मसौली प्रधान संघ अध्यक्ष पद को लेकर मचा घमासान, एक धड़े ने सोमनाथ राजपूत को चुना नया अध्यक्ष, वर्तमान अध्यक्ष मुबीन सिकंदर ने नई कार्यकारिणी को नकारते हुए जिलाध्यक्ष के पाले में डाली गेंद