Edition

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

बाराबंकी : कोटवाधाम तीर्थ के अभरन सरोवर के सौंदर्यीकरण कार्य को चालू कराने की मांग को लेकर समाज सेविका गुड़िया देवी 04 दिसम्बर से शुरू करेंगी उपवास

 

सिरौलीगौसपुर-बाराबंकी।
जिले के सुप्रसिद्ध तीर्थ स्थल कोटवाधाम के अमृत सरोवर के दो वर्ष से बंद पड़े सौंदर्यीकरण कार्य को पुनः चालू कराने को लेकर समाज सेविका श्रीमती गुड़िया देवी ने जिम्मेदार अधिकारियों को अल्टीमेटम देते हुए 4 दिसम्बर से पूर्व सौंदर्यीकरण कार्य न शुरू होने पर 04 दिसम्बर को अमृत सरोवर उत्थान समिति के बैनर तले उपवास पर बैठने की चेतावनी दी है।गौरतलब है कि दो वर्ष पूर्व विकास खण्ड दरियाबाद अंतर्गत सुप्रसिद्ध तीर्थ स्थल कोटवाधाम बड़े बाबा जगजीवन दास साहेब के अभरन सरोवर का अमृत सरोवर के रुप में चयन कर सरोवर के सौंदर्यीकरण के लिए 66 लाख रुपये की धनराशि स्वीकृत करी गयी थी। सौंदर्यीकरण कार्य शुरू होने के बाद पूर्व प्रधान की शिकायत पर मनरेगा लोकपाल की जांच के पश्चात सौंदर्यीकरण कार्य बंद कर दिया गया जो अब तक बंद पडा हुआ है। सौंदर्यीकरण कार्य को पुनः चालू कराने को लेकर स्थानीय समाज सेविका श्रीमती गुड़िया देवी ने कई बार बीडीओ एम.के.गुप्ता, एडीओ पंचायत के साथ साथ मुख्य विकास अधिकारी एकता सिंह को भी पत्र लिखा लेकिन अधिकारियों के आश्वासन के बाद भी सरोवर के सौंदर्यीकरण का काम शुरू नही हो सका। समाज सेविका श्रीमती गुड़िया देवी ने बताया की अधिकारियों की वादा खिलाफी के विरोध स्वरूप आगामी 04 दिसम्बर को अमृत सरोवर उत्थान समिति के बैनर तले वो सरोवर पर उपवास करेंगी।
रिपोर्ट – मन्सूफ अहमद

 

236
आपकी राय

क्या आप बाराबंकी के मौजूदा भाजपा सांसद उपेन्द्र सिंह रावत की कार्यशैली से संतुष्ट है?

और पढ़ें

बाराबंकी : मसौली प्रधान संघ अध्यक्ष पद को लेकर मचा घमासान, एक धड़े ने सोमनाथ राजपूत को चुना नया अध्यक्ष, वर्तमान अध्यक्ष मुबीन सिकंदर ने नई कार्यकारिणी को नकारते हुए जिलाध्यक्ष के पाले में डाली गेंद