Edition

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

बाराबंकी : “खाकी की मनमानी” बिना हेलमेट आये दरोगा को टोका तो 10 दिन में तीन बार कर दिया कार का चालान

 

रामसनेहीघाट-बाराबंकी।
बाराबंकी में खाकी की मनमानी का अजब गजब मामला सामने आया है। जहां एक व्यापारी के पुत्र को बिना हेलमेट आये दरोगा को हेलमेट पहनने की नसीहत देना उस वक़्त भारी पड़ गया जब खुन्नस खाये दरोगा ने 10 के अंदर ही व्यापारी की कार का तीन बार चालान कर दिया। हद तो ये रही कि दरोगा जी ने अपनी पावर का दुरुपयोग करते हुए ये तीनो चालान उस वक़्त किये जब कार सड़क से काफी अंदर घर के सामने ही इंटरलाकिंग पर खड़ी थी। बहरहाल अब मामला तूल पकड़ने के बाद बाराबंकी के तेज तर्रार और ईमानदार एसपी दिनेश कुमार सिंह ने सीओ ट्रैफिक को मामले की जांच सौंपी है।जानकारी के मुताबिक रामसनेहीघाट थाना क्षेत्र के भिटरिया कस्बे के निवासी अशोक यादव का मकान मुख्य मार्ग के किनारे बना है। व्यापारी अशोक यादव के मुताबिक बीती 15 नवम्बर को रामसनेहीघाट कोतवाली में तैनात दरोगा उदय शंकर सिंह सड़क से काफी अंदर मकान के बाहर खड़ी उनके कर्मचारी की बाइक का चालान कर रहे थे। जिस पर उनके बेटे आयुष्मान ने दरोगा की मनमानी का विरोध जताते हुए कहा कि आप भी तो बाइक से आये है और हेलमेट नही पहने है, आपको भी तो हेलमेट लगाना चाहिए। व्यापारी अशोक यादव की माने तो उनके बेटे की यह हिदायत दरोगा जी को इतनी नागवार गुज़री की उन्होंने बाइक का 1500 रुपये का चालान कर दिया। इसके बाद भी दरोगा का गुस्सा शांत नही हुआ तो 16 नवम्बर को कोतवाली के बाहर खड़ी व्यापारी की कार संख्या यूपी 41 एए 0333 उस वक़्त 1500 रुपये का चालान कर दिया जब वो किसी काम से कोतवाली गए थे।घर के सामने इंटरलॉकिंग पर खड़ी कार का भी दो बार ठोका चालान
व्यापारी अशोक यादव ने बताया कि खुन्नस के चलते दरोगा उदय शंकर सिंह ने 24 व 26 नवम्बर को पुनः घर के सामने इंटरलॉकिंग पर खड़ी उनकी कार का दूर से ही फ़ोटो लेकर 1500-1500 रुपये का चालान कर दिया। जबकि फ़ोटो में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि कार सड़क से काफी दूर इंटरलॉकिंग पर खड़ी है।दरोगा की मनमानी पर क्या बोले जिम्मेदार अधिकारी
जब इस बारे में कोतवाल ओ पी तिवारी से जानकारी की गयी तो उन्होंने बताया कि दरोगा उदय शंकर सिंह ने चालान किये है। उनको भविष्य में इस तरह की हरकत न करने की चेतावनी दी गयी है। वही मामला सुर्खियों में आने के बाद जनपद के तेजतर्रार पुलिस कप्तान दिनेश कुमार सिंह ने क्षेत्राधिकारी यातायात को मामले की जांच सौंप दी है और जांच के बाद कार्रवाई की बात कही है।
रिपोर्ट – मन्सूफ अहमद
236
आपकी राय

क्या आप बाराबंकी के मौजूदा भाजपा सांसद उपेन्द्र सिंह रावत की कार्यशैली से संतुष्ट है?

और पढ़ें

बाराबंकी : मसौली प्रधान संघ अध्यक्ष पद को लेकर मचा घमासान, एक धड़े ने सोमनाथ राजपूत को चुना नया अध्यक्ष, वर्तमान अध्यक्ष मुबीन सिकंदर ने नई कार्यकारिणी को नकारते हुए जिलाध्यक्ष के पाले में डाली गेंद