Edition

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

बाराबंकी : ड्रीम 11 खेल कर हार गया काफी रुपये तो दोस्त के साथ मिलकर रच डाला खुद के अपहरण का षडयंत्र, पुलिस ने दो को किया गिरफ्तार

[smartslider3 slider=1]

बाराबंकी।

ड्रीम 11 खेल में काफी रुपये हारने के बाद युवक ने दोस्त के साथ मिलकर खुद के ही अपहरण का षडयंत्र रच डाला और घरवालों से 50 हज़ार रुपये ऐंठ लिए। अपहरण की सूचना के बाद हरकत में आयी साइबर सेल व नगर कोतवाली पुलिस की संयुक्त टीम ने युवक व उसके दोस्त को गिरफ्तार कर मामले का खुलासा करते हुए घटना में प्रयुक्त दो अदद मोबाइल फोन बरामद किए है।

पुलिस के अनुसार दिनांक 14.04.2023 को वादी राहुल भारती पुत्र लालता प्रसाद निवासी उरगदिया थाना कोतवाली नगर जनपद बाराबंकी ने थाना कोतवाली नगर पर सूचना दिया कि दिनांक 13.04.2023 की सुबह उनका चचेरा भाई रोहित कुमार घर से कहीं चला गया था। उसे शक है कि उसका किसी ने अपहरण कर लिया है। उक्त सूचना पर थाना कोतवाली नगर पर मु0अ0सं0-430/2023 धारा 364 भादवि पंजीकृत किया गया। पुलिस अधीक्षक बाराबंकी दिनेश कुमार सिंह द्वारा अपर पुलिस अधीक्षक उत्तरी के निर्देशन व क्षेत्राधिकारी नगर के पर्यवेक्षण में साइबर सेल व थाना कोतवाली नगर की संयुक्त पुलिस टीम द्वारा 02 अभियुक्तों 1. रोहित कुमार पुत्र अवधराम गौतम निवासी ग्राम उरगदिया थाना कोतवाली नगर जनपद बाराबंकी 2. प्रदुम्न सिंह पुत्र विजय कुमार रावत निवासी ग्राम सरसवा थाना बड्डूपुर जनपद बाराबंकी को आज दिनांक-16.04.2023 को गिरफ्तार किया गया। अभियुक्तगण के कब्जे से घटना में प्रयुक्त 02 अदद मोबाइल फोन बरामद किया गया।

पुलिस की पूछताछ में सामने आया कि अभियुक्त रोहित (कथित अपहृत) मोबाइल पर ड्रीम 11 गेम खेलने का आदि था व काफी रुपये हार गया था। दिनांक 13.04.2023 को प्रातः घरवालों को बिना बताये लखनऊ में रह रहे अपने दोस्त प्रदुम्न सिंह जिससे करीब ढाई वर्ष पहले फेसबुक के माध्यम से दोस्ती हुई थी, के यहां चला गया। प्रदुम्न के साथ मिलकर अपने अपरहरण की योजना बनाई जिससे घरवालों से रुपये प्राप्त कर सके। अभियुक्त रोहित ने घर से निकलते ही अपना मोबाइल फ्लाइट मोड पर लगा दिया एवं प्रदुम्न सिंह के मोबाइल के वाई-फाई का प्रयोग कर रोहित ने अपने घर के बगल के दोस्त के मैसेन्जर पर धमकी भरा मैसेज भेजते हुये रुपयों की माँग की गई। जब रुपये नहीं प्राप्त हुए तो अभियुक्त रोहित ने अपने हाथ बांधने, हाथ काटे जाने व मारने पीटने आदि का झूठा वी़डियो प्रदुम्न सिंह से बनवाकर घरवाले को भेजा जिससे घबराकर परिजनों ने 4-5 बार में कुल 50 हजार रुपये रोहित के एकाउण्ट में भेजा। इसी तरह ढाई साल पूर्व भी अभियुक्त रोहित द्वारा अपने अपहरण की झूठी कहानी रचकर परिजनों से 25 हजार रुपये लिया गया था। अभियुक्तगण के विरुद्ध धारा 420/386/120बी भादवि की बढोत्तरी की गयी।

रिपोर्ट- आसिफ हुसैन

[smartslider3 slider=4]
[smartslider3 slider=3]

 

 

admin
Author: admin

5178
आपकी राय

क्या आप बाराबंकी के मौजूदा भाजपा सांसद उपेन्द्र सिंह रावत की कार्यशैली से संतुष्ट है?

और पढ़ें