Edition

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

केंद्रीय कर्मचारियों को फरवरी 2023 मे मिलेगा बड़ा तोहफा, 50 फीसदी तक बढ़ जाएगी सैलरी!

[smartslider3 slider=1]

नई दिल्ली।

केंद्रीय कर्मचारियों पर इन दिनों केंद्र सरकार मेहरबान है। सितंबर में महंगाई भत्ता (DA) में चार फिसदी की बढ़ोतरी के बाद अब सरकार नए साल 2023 के जनवरी महीने में डीए में एकबार फिर बढ़ोतरी करने वाली है। वहीं खबरें आ रही है कि नए साल के दूसरे महीने में केंद्र सरकार 52 लाख से ज्यादा केंद्रीय कर्मचारियों के फिटमेंट फैक्ट में बढ़ोतरी कर सकती है। खबरों के मुताबिक सरकार अगले साल 1 फरवरी 2023 को पेश होने वाले बजट के बाद केंद्रीय कर्मचारियों की इस डिमांड पर फैसला ले सकती है।

[smartslider3 slider=2]

गौरतलब है कि बेसिक सैलरी में फिटमेंट फैक्टर के तहत बढ़ोतरी होती है। दरअसल केंद्रीय कर्मचारी लंबे अरसे से केंद्र सरकार से फिटमेंट फैक्टर में बढ़ोतरी की मांग कर रहे हैं। केंद्रीय कर्मचारियों को फिलहाल 2.57 फीसदी के ह‍िसाब से फिटमेंट फैक्टर द‍िया जा रहा है। इसे बढ़ाकर 3.68 गुना क‍िए जाने की मांग की जा रही है। फिटमेंट फैक्टर के 2.57 से बढ़ाकर 3.68 करने पर मिन‍िमम बेस‍िक सैलरी 18,000 रुपये से बढ़कर 26,000 रुपये हो जाएगी। अगर केंद्र सरकार इस मांग को मान लेती है तो केंद्रीय कर्मचारियों की न्यूनतम सैलरी में जबरदस्त बढ़ोतरी होगी।

[smartslider3 slider=3]

गौरतलब है कि आखिरी बार साल 2016 में फिटमेंट फैक्टर को बढ़ाया गया था। इसी साल 7वां वेतन आयोग भी लागू हुआ था। उस समय कर्मचारियों की न्यूनतम सैलरी 6000 रुपये से सीधे 18,000 रुपये हो गई थी। जबकि उच्चतम स्तर को 90,000 रुपये से बढ़ाकर 2.5 लाख रुपये कर दिया गया। अब सरकार इस साल केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी में फिर बढ़ोतरी कर सकती है। फिटमेंट फैक्टर केंद्र सरकार के सभी कर्मचारियों के लिए बेसिक वेतन तय करता है। इस बार अगर फिटमेंट फैक्टर में संभावित बढ़ोतरी होती है तो न्यूनतम बेसिक पे 18000 रुपये से बढ़कर 26000 रुपये हो जाएगा।

रिपोर्ट- न्यूज़ डेस्क बाराबंकी एक्सप्रेस

[smartslider3 slider=4]
admin
Author: admin

3223
आपकी राय

बाराबंकी 53 लोकसभा क्षेत्र से आप किस प्रत्याशी को अपने सांसद के तौर देखना पसंद करते हैं ?

और पढ़ें

Barabanki News: मकान के बगल से गुजरी हाइटेंशन लाइन की चपेट में आकर 17 वर्षीय किशोरी की मौत (02) निःशुल्क शिक्षा केन्द्र व बाल लाइब्रेरी से ग्रामीण बच्चों का भविष्य निर्माण कर रही तन्मय डेवलेपमेंट फाउंडेशन

error: Content is protected !!