Edition

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

Barabanki News: लोकतंत्र रक्षक सेनानी राजनाथ शर्मा के 80वें जन्मदिवस पर आयोजित हुए विविध कार्यक्रम

 

बाराबंकी।
डॉ. राममनोहर लोहिया के समय समाजवादी आंदोलन में शामिल होने वाला एक नौजवान महज़ उन्नीस साल की उम्र में इसलिए जेल गया ताकि डा. लोहिया के नेतृत्व में किसानों को उनकी उपज का वाजिब दाम दिलाया जा सके। एक साल बाद बीस बरस की उम्र में वो ‘गॉधी लोहिया की अभिलाषा, चले देश में देश की भाषा’ के नारे के साथ इसलिए जेल गया क्योंकि वह अंग्रेजी को हटाना चाहता था। तीसरी बार वो ‘सोशलिस्टों ने बांधी गांठ, पिछाड़ पावें सौ में साठ’ के उद्घोष के साथ जेल गया। जीवन में अब तक उनका दूसरा ठिकाना जेल बन गया था।
हम बात कर रहे है लोकतंत्र रक्षक सेनानी एवं वरिष्ठ समाजवादी चिन्तक राजनाथ शर्मा की जो जीवनकाल के 80 पड़ाव पार करने के बाद आज भी समाजवादी आंदोलन का दिया जलाए हुए हैं। इस दौरान कई बार प्रस्ताव मिलने के बावजूद उन्होंने न कभी चुनाव लड़ा और न कोई शासकीय पद ही लिया। जनसरोकार से जुड़ी ऐसी शख्सियत का 80वां जन्मदिन मनाने के लिए रविवार को देवा रोड स्थित गांधी भवन में आयोजित आशीर्वचन समारोह में बधाई देने वालों का हुजूम इकट्ठा रहा।

यह भी पढ़े : Barabanki News: बहन की बारात आने से कुछ देर पहले हो गयी भाई की मौत, मातम में तब्दील हो गया शादी का जश्न

समारोह के मुख्य अतिथि पूर्व कैबिनेट मंत्री एवं सपा के राष्ट्रीय सचिव अरविन्द कुमार सिंह गोप ने कहा कि राजनाथ शर्मा सिविल नाफरमानी के योद्धा हैं। ना मानेंगे, ना मारेंगे उनके जीवन का सूत्र है। वह समाजवाद के अभिलेखागार हैं। अगर आप समाजवाद को जानना समझना चाहते हैं। तो उन्हें खंगालना पड़ेगा। राजनाथ शर्मा वह जिन्दा कौम है जो पांच साल इन्तजार नहीं करती। वह जब सत्ता में रहते हैं। तब भी सड़क पर संघर्ष के हिमायती है। यह उनकी पहचान है। पूर्व प्रशासक सुधेश कुमार ओझा ने कहा कि राजनाथ शर्मा से मिलना सदा प्रेरणादायी और ऊर्जा दायक होता है। देश और दुनिया को देखने की समझ भी बढ़ती है। 80 वर्ष की उम्र में उनकी याददाश्त, उत्साह और कार्यक्षमता ज्यों की त्यों कायम है, जो सभी को आश्चर्यचकित करती है।
विज्ञापन
आचार्य नरेन्द्र देव समाजवादी संस्थान के संयुक्त सचिव नवीन तिवारी ने कहा कि राजनाथ जी ने समाजवादियों का जीवन कैसा होना चाहिए इसका आदर्श देश और दुनिया के सामने रखा है। वह किसी भी सार्वजनिक कार्य के लिए पैसा इकट्ठा करने की अद्भुत क्षमता और कौशल रखते हैं। सभा की अध्यक्षता कर रहे पूर्व विधायक सरवर अली ने कहा कि राजनाथ शर्मा समाजवादी आंदोलन के उतार और चढ़ाव के साक्षी और भागीदार रहे हैं। इसके बावजूद भी उनके मन में कभी निराशा पैदा नहीं हुई। उन्होंने समाजवाद को नई दिशा प्रदान की। उनकी सोंच और समाजवादी विचार युवा पीढी को दिशा प्रदान करते रहेंगे। उन्होने सही मायने में समाजवाद को अपने जीवन का आधार बनाया। बिना किसी लोभ, पद, सम्पत्ति के राजनीति में दूसरों के हक की लडाई को लडा। वह भारतीय समाजवादी आन्दोलन के ईमानदार सोशलिस्ट लीडर माने जाते रहेंगे।

यह भी पढ़े : Barabanki News: लोकसभा चुनाव के मद्देनजर 06 माह के लिए जिला बदर किया गया शातिर अपराधी फयाजू उर्फ़ फयाज उर्फ़ फयाजुद्दीन

इस मौके पर राजनाथ शर्मा, साहित्यकार अजय सिंह गुरूजी, पूर्व विधायक शिवकरन सिंह, राना प्रताप सिंह, मलिक जमाल युसूफ, हुमायंू नईम खान, अदिति शर्मा, आद्या शर्मा ने संबोधित किया। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से पूर्व सांसद डॉ पी.एल पुनिया, पूर्व ब्लाक प्रमुख विवेकानंद पाण्डेय, भाजपा नेता मनीष शुक्ला, भरत लाल सिंह, वरिष्ठ पत्रकार सुरेश बहादुर सिंह, राजीव ओझा, अशोक शुक्ला, दानिश आजम वारसी, पूर्व जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष बृजेश दीक्षित, रामगोपाल शुक्ला, कौशल किशोर त्रिपाठी, बलराम सिंह एडवोकेट, डॉ कुलदीप सिंह, विनय कुमार सिंह, मृत्युंजय शर्मा, कुलवीर चौधरी, नासिर खान, शऊर कामिल किदवई, विश्वविजय सिंह, सलाउद्दीन किदवई, फराजुद्दीन किदवई, एम.ए हुसैन, सत्यवान वर्मा, कृष्ण प्रकाश त्रिपाठी, मधुसूदन दीक्षित, सभासद मो. फैसल, समाजसेवी कैलाश नाथ शर्मा, ताहिर खान, शहजादे आलम वारसी, आदि सैकड़ों लोग मौजूद रहे।
रिपोर्ट – मन्सूफ अहमद

यह भी पढ़े : Barabanki News: इंटरनेशनल ब्रिलियंस अवार्ड से सम्मानित किए गए डॉ0 मोहम्मद हारून राइन (2) ट्रैक्टर की टक्कर से गंभीर रूप से घायल हुए बाइक सवार

Barabanki Express
Author: Barabanki Express

Barabanki Express News 24×7 is the most credible hindi news portal of District Barabanki. pls follow to get updates what's happening around ur City and District

3223
आपकी राय

बाराबंकी 53 लोकसभा क्षेत्र से आप किस प्रत्याशी को अपने सांसद के तौर देखना पसंद करते हैं ?

और पढ़ें

Barabanki News: मकान के बगल से गुजरी हाइटेंशन लाइन की चपेट में आकर 17 वर्षीय किशोरी की मौत (02) निःशुल्क शिक्षा केन्द्र व बाल लाइब्रेरी से ग्रामीण बच्चों का भविष्य निर्माण कर रही तन्मय डेवलेपमेंट फाउंडेशन

error: Content is protected !!